Hospitality Industry: कोरोना के चलते होटल, रेस्तरां को भारी नुकसान, सभी पाबंदी हटाने की मांग

Covid related restrictions: हॉस्पिटैलिटी इंडस्ट्री (Hospitality Industry) के निकाय FHRAI ने राज्य सरकारों से होटलों, रेस्तरांओं और अन्य सभी इस तरह की जगहों पर कोविड-19 की पाबंदियों को पूरी तरह हटाने की मांग की है. संगठन ने कहा कि केंद्र ने भी राज्यों से कोविड-19 से संबंधित अतिरिक्त अंकुशों हटाने को कहा है. केंद्र सरकार ने बुधवार को राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों से कोरोना वायरस के नए मामलों पर समीक्षा करने के बाद महामारी संबंधी प्रतिबंधों को घटाने या हटाने के लिए कहा है.

24 महीनों में हुआ भारी नुकसान
फेडरेशन ऑफ होटल एंड रेस्तरां एसोसिएशन ऑफ इंडिया (FHRAI) के संयुक्त मानद सचिव प्रदीप शेट्टी ने एक बयान में कहा, ‘‘केंद्र सरकार का निर्णय उद्योग के लिए एक बड़ी राहत है. हम भी राज्यों से होटल, रेस्तरां और अन्य स्थानों पर कोरोना संबंधी सभी प्रतिबंधों को हटाने का आग्रह करते हैं.’’ उन्होंने कहा कि पिछले 24 महीनों में आतिथ्य उद्योग को महामारी के कारण लगाए गए लॉकडाउन और प्रतिबंधों से सबसे अधिक नुकसान हुआ है.

50 प्रतिशत क्षमता का प्रतिबंध जारी है
शेट्टी ने कहा, ‘‘कई राज्यों में बंद होने के समय के साथ-साथ रेस्तरां पर 50 प्रतिशत क्षमता का प्रतिबंध भी जारी है. कई राज्यों में शादी और सामाजिक समारोहों में लोगों की संख्या पर प्रतिबंध हैं और बैठकें, सम्मेलन और प्रदर्शनियों के स्थल गंभीर संकट में हैं.’’ उन्होंने कहा कि गर्मियां घरेलू यात्रा का सीजन भी हैं और क्रिसमस और नए साल के बाद आतिथ्य उद्योग के लिए अगला सबसे अच्छा समय है.

यह भी पढ़ें:
LPG Subsidy को लेकर मिली ये बड़ी जानकारी, जल्दी से चेक करें अगर आपको नहीं मिल रहा पैसा तो अब…

Sukanya Samriddhi Yojana में मिलेगा बड़ा फायदा, सरकार ने दी ये जानकारी, फटाफट ओपन करा लें बेटी का खाता

Source link ABP Hindi