Delhi Budget: दिल्ली सरकार के बजट के लिए आए 5500 सुझाव, इलेक्ट्रिक वाहन नीति बनाने की मांग उठी

Delhi Budget: दिल्ली सरकार का बजट जल्द ही आने वाला है. दिल्ली सरकार के वित्त वर्ष 2022-23 के बजट के लिए लोगों ने 5500 सुझाव दिए हैं जिनमें छोटे कारोबारियों के लिए निवेशक-उद्यमी कार्यक्रम शुरू करने से लेकर राष्ट्रीय राजधानी में ई-बाइक को प्रोत्साहित करने तक सुझाव शामिल हैं.

मंगलवार आखिरी तारीख तक मिले 5500 सुझाव
दिल्ली सरकार ने अपने ‘स्वराज बजट’ के लिए लोगों से सुझाव आमंत्रित किए थे और सुझाव देने के आखिरी दिन मंगलवार तक उसे 5,500 सुझाव मिले हैं. अधिकारियों के मुताबिक दिल्लीवासी, आम आदमी पार्टी (आप) की सरकार में शिक्षा प्रणाली में हुए विकास से प्रभावित हैं और वे इसी तरह की सुविधा वयस्कों के लिए भी चाहते हैं.

दिल्ली में शाम की क्लासेस चलाने पर विचार संभव
अधिकारी ने बताया, ‘‘उन्होंने कहा कि दिल्ली सरकार स्कूलों के लिए अवंसरचना का विकास करने के साथ तरह-तरह के पाठ्यक्रम ला रही है और वयस्क भी इससे लाभान्वित हो सकते हैं. उन्होंने विकास और प्रगति को जीवन पर्यंत सीखने की वकालत की और कहा कि वयस्कों के लिए संध्या कक्षाएं इन स्कूलों में चलाई जा सकती है.’’

माल ढुलाई और कुरियर के लिए अनिवार्य इलेक्ट्रिक वाहन की नीति बने
शहर के एक पत्रकार ने ‘मोहल्ला क्लीनिक’ की तर्ज पर ‘मोहल्ला पुस्तकालय’’ बनाने का सुझाव दिया है. एक अन्य निवासी ने ‘बिजनेस ब्लास्टर’ की तर्ज पर छोटे कारोबारियों के लिए उद्यमी-निवेश संगोष्ठी व कार्यक्रम चलाने का सुझाव दिया है. एक शहरी ने माल ढुलाई और कुरियर के लिए अनिवार्य इलेक्ट्रिक वाहन की नीति बनाने की मांग की है.

ये भी पढ़ें-

e-Shram Card: ई-श्रम पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन के समय कर रहे हैं दिक्कतों का सामना, इस तरह करें अपनी परेशानी दूर

MMPSY: आर्थिक रूप से कमजोर परिवारों को सरकार देती है हर साल 6 हजार रुपये की मदद, यह लोग उठा सकते हैं इस योजना का लाभ

Source link ABP Hindi