Channi के ‘यूपी-बिहार’ बयान पर घमासान, CM Yogi बोले- Congress की नीति विभाजनकारी

Punjab Assembly Election 2022: पंजाब में विधानसभा चुनाव की वोटिंस से ठीक पहले मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी (Charanjit Singh Channi) के बयान को लेकर पंजाब (Punjab) से लेकर यूपी तक घमासान हो गया है. सीएम चन्नी के ‘भगाओ यूपी-बिहार के भैयों को’ बयान को लेकर यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने कांग्रेस (Congress) पर निशाना साधा है. सीएम योगी ने कहा है कि चन्नी के बयान से साफ है कि कांग्रेस की नीति विभाजनकारी है. वहीं चन्नी के बयान को लेकर बहुजन समाज पार्टी (BSP) की सुप्रीमो मायावती (Mayawati) भी कांग्रेस पर हमलावर हैं.

सीएम चन्नी ने रैली में क्या कहा था?

रूपनगर में कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) के साथ रैली कर रहे सीएम चन्नी ने कहा था, ”एकजुट हो जाओ पंजाबियों. यूपी, बिहार और दिल्ली के भइयों को पंजाब में घुसने नहीं देना है, जो यहां राज करना चाहते हैं.” चन्नी की कोशिश थी पंजाबी अस्मिता को जगाकर कांग्रेस के लिए वोट जुटाने की, लेकिन चन्नी की ये कोशिश अब कांग्रेस पर भारी पड़ गई है. सबसे पहले बीजेपी ने चन्नी का ये बयान सोशल मीडियो पर अपलोड कर सवाल दागा.

ऐसे करेगी कांग्रेस यूपी और देश का विकास?- अमित मालवीय

बीजेपी आईटी सेल के चीफ अमित मालवीय ने ट्वीट किया, ”मंच से पंजाब के मुख्यमंत्री यूपी, बिहार वालों को अपमानित करते हैं और प्रियंका वाड्रा बगल में खड़े हो कर हंस रही हैं, तालिया बजा रही हैं. ऐसे करेगी कांग्रेस यूपी और देश का विकास? लोगों को आपस में लड़ा कर?”

चन्नी के बयान पर बीजेपी हमलावर

अमित मालवीय के इस ट्वीट के बाद तो बीजेपी खुलकर मैदान में उतरी. चन्नी के बयान को यूपी चुनाव में मुद्दा बना दिया. सीएम योगी ने कहा, ”चन्नी के बयान से साफ है कि कांग्रेस की नीति विभाजनकारी है. ये कांग्रेस के संस्कार हैं.” वहीं, बीजेपी सांसद तेजस्वी सुर्या ने कहा, ”प्रियंका वाड्रा जी उत्तर प्रदेश में आकर अपने को यूपी की बेटी बताती है और पंजाब में उत्तर प्रदेश-बिहार के लोगो के अपमान पर ताली बजाती है, ये ही इनका दोहरा चरित्र है और चेहरा भी.”

कांग्रेस को विधानसभा-आमचुनाव में जरूर सबक सिखाए जनता- मायावती

उधर पंजाब और यूपी में चुनाव लड़ रही बीएसपी ने भी चन्नी के बयान को यूपी-बिहार का अपमान बताया. मायावती ने ट्विटर पर लिखा, ”पंजाब के कांग्रेसी सीएम ने शीर्ष नेतृत्व की मौजूदगी में यूपी और बिहार के लोगों का जिस प्रकार से अपमान किया है, वह अति शर्मनाक है. ऐसे में इन दोनों राज्यों के लोग कांग्रेस को पंजाब और यूपी में भी हो रहे विधानसभा-आमचुनाव में जरूर सबक सिखाएं. बिहार के लोग भी इसका जरूर उचित संज्ञान लें.”

बता दें कि पंजाब में यूपी-बिहार के लाखों लोग रहते हैं जो छोटे मोटे रोजगार से सूबे की आर्थिक सेहत को दुरुस्त रखने में योगदान देते हैं, लेकिन अब इन्हीं को सियायी फायदे के लिए गाली देना कितना सही है, ये सवाल सभी पूछ रहे हैं.

यह भी पढ़ें-

Exclusive: PM मोदी और राहुल गांधी के आरोपों का Arvind Kejriwal ने दिया जवाब, बताया कितने महीने में खत्म होगा नशाखोरी का नेटवर्क

Assembly Election 2022: चुनावों के वक्त क्यों याद आए संत रविदास? पीएम मोदी से लेकर राहुल-प्रियंका गांधी तक ने लिया आशीर्वाद

Source link ABP Hindi