सरकार ने किसानों को दी बड़ी खुशखबरी, शुरू करेगी ये नई योजना, फटाफट जानें किसे मिलेगा फायदा?

Farmers Schemes in India: देश में केंद्र सरकार (central government) किसानों के लिए कई खास स्कीम चला रही है. मोदी सरकार ने देश के किसानों, गरीबों और जरूरतमंदों के लिए कई खास योजनाएं शुरू की है. सरकार ने एक बार फिर किसानों (Indian Farmers) के लिए बड़ा फैसला लिया है. सरकार फसल बीमा (fasal bima yojana) के लिए घर-घर वितरण अभियान शुरू करने का प्लान बना रही है.

फसल बीमा के 7वें साल में किया प्रवेश
सरकार ने कहा कि किसानों को फसल बीमा पॉलिसी देने के लिए वह घर-घर वितरण अभियान शुरू करेगी. प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना (PMFBY) के आगामी खरीफ सत्र मे कार्यान्वयन के सातवें साल में प्रवेश के साथ योजना शुरू की जा रही है.

सभी राज्यों में घर-घर जाकर शुरू होगा अभियान
कृषि मंत्रालय ने कहा कि घर-घर चलाया जाने वाला अभियान ‘मेरी पॉलिसी मेरे हाथ’ का उद्देश्य यह सुनिश्चित करना है कि सभी किसान पीएमएफबीवाई के तहत सरकार की नीतियों, भूमि रिकॉर्ड, दावे की प्रक्रिया और शिकायत निवारण के बारे में सभी जानकारी से अच्छी तरह से वाकिफ हों. मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि जून से शुरू होने वाले आगामी खरीफ सत्र में योजना लागू करने करने वाले सभी राज्यों में घर-घर जाकर अभियान शुरू किया जाएगा.

फरवरी 2016 में शुरू हुई थी योजना
फरवरी 2016 में शुरू की गई पीएमएफबीवाई का उद्देश्य प्राकृतिक आपदाओं से होने वाली फसल के नुकसान/क्षति से पीड़ित किसानों को वित्तीय सहायता प्रदान करना है. मंत्रालय के अनुसार, पीएमएफबीवाई के तहत 36 करोड़ से अधिक किसानों के आवेदनों का बीमा किया गया है, इस साल 4 फरवरी तक इस योजना के तहत 1,07,059 करोड़ रुपये से अधिक दावों का भुगतान किया जा चुका है.

किसानों को मिलेगा फायदा
फसल बीमा योजना सबसे कमजोर किसानों को वित्तीय सहायता प्रदान करने में कामयाब रही है क्योंकि इस योजना में नामांकित लगभग 85 प्रतिशत किसान छोटे और सीमांत किसान हैं. हालांकि, प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना को वर्ष 2020 में किसानों की स्वैच्छिक भागीदारी के लिहाज से बदला गया था.

फसल नुकसान में मिलती है सहायता
किसान को किसी भी घटना के 72 घंटे के भीतर फसल के नुकसान की सूचना फसल बीमा ऐप, सीएससी केंद्र या निकटतम कृषि अधिकारी के माध्यम से देने के लिए सुविधाजनक बनाया गया है. पात्र किसान के बैंक खातों में इलेक्ट्रॉनिक रूप से दावे का भुगतान करने की व्यवस्था की गई है.

ड्रोन भी कराए उपलब्ध
वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने अपने 2022-23 के बजट भाषण में फसल बीमा के लिए ड्रोन के उपयोग का प्रस्ताव किया है. इससे जमीन पर योजना के सुचारू कार्यान्वयन के लिए प्रौद्योगिकी के एकीकरण को और मजबूत किया जाएगा.

यह भी पढ़ें:
SBI में खाता रखने वालों के लिए खुशखबरी, बैंक सीधे आपके घर भेजेगा 20,000 रुपये कैश, फटाफट करा लें रजिस्ट्रेशन

Onion price: प्याज को महंगा होने से रोकने के लिए सरकार ने लिया ये बड़ा फैसला, जानें किस शहर में क्या हैं रेट्स

Source link ABP Hindi