भारत द्वारा 54 चीनी ऐप पर बैन लगाने के बाद पहली बार बोला चीन, कही यह बात

Ban on Chinese Apps: चीन (China) ने गुरुवार को सुरक्षा कारणों से भारत द्वारा चीनी ऐप्स (Chinese apps) पर प्रतिबंध लगाने के बारे में गंभीर चिंता व्यक्त की. चीन ने कहा कि उसे उम्मीद है कि भारत चीनी कंपनियों सहित सभी विदेशी निवेशकों के साथ पारदर्शी, निष्पक्ष और गैर-भेदभावपूर्ण तरीके से व्यवहार करेगा.

वाणिज्य मंत्रालय के प्रवक्ता गाओ फेंग ने एक संवाददाता सम्मेलन में कहा, “हमें उम्मीद है कि भारत द्विपक्षीय आर्थिक और व्यापार सहयोग की मजबूत विकास गति को बनाए रखने के लिए ठोस कदम उठा सकता है.”

भारत ने लगाया बैन
बता दें भारत ने सोमवार को चीन से संबंध रखने वाले 54 मोबाइल ऐप को सुरक्षा एवं निजता से जुड़े मसलों पर प्रतिबंधित कर दिया जिनमें टेंसेंट एक्सराइवर, नाइस वीडियो बायडु और वीवा वीडियो एडिटर शामिल हैं.

सूत्रों के मुताबिक प्रतिबंधित किए गए 54 चीनी ऐप ने कथित तौर पर उपयोगकर्ताओं से अहम मंजूरियां हासिल कर उनसे संवेदनशील जानकारियां जुटाईं. ये ऐप उपयोगकर्ताओं से जुटाई गई जानकारियों का दुरुपयोग कर रहे थे और उसे विरोधी देश में स्थित सर्वरों को भेज रहे थे.

सूत्रों के मुताबिक, प्रतिबंधित किए गए ऐप देश की अखंडता एवं संप्रभुता को खतरे में डालने वाली गतिविधियों में कथित तौर पर लिप्त पाए गए थे. इनसे देश की सुरक्षा के लिए गंभीर खतरा पैदा होने की आशंका पाई गई.

सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय ने इन 54 ऐप को प्रतिबंधित करने के लिए अंतरिम निर्देश जारी किए हैं. मंत्रालय को इस बारे में गृह मंत्रालय से अनुरोध किया गया था.

ये ऐप आए प्रतिबंध के दायरे में
प्रतिबंध के दायरे में आए ऐप में ब्यूटी कैमराः स्वीट सेल्फी एचडी, ब्यूटी कैमराः सेल्फी कैमरा, राइज ऑफ किंग्सडम्सः लॉस्ट क्रुसेड, वीवा वीडियो एडिटर, टेंसेंट एक्सराइवर जैसे लोकप्रिय ऐप भी शामिल हैं. इनके अलावा गेरेना फ्री फायर- इल्युमिनेट, एस्टाक्राफ्ट, फैंसीयू प्रो, मूनचैट, बारकोड स्कैनर-क्यूआर कोड स्कैन और लीका कैम को भी सरकार ने प्रतिबंधित कर दिया है.

यह भी पढ़ें:

Pakistan Crisis: पाकिस्तान में ‘बाउंड्री’ पार महंगाई, विपक्ष कर रहा अविश्वास प्रस्ताव से इमरान खान को ‘बोल्ड’ करने की तैयारी

India on Afghanistan: भारत ने UN को किया आगाह, कहा- अफगानिस्तान का मौजूदा घटनाक्रम पूरे मध्य एशिया पर डालेगा असर

Source link ABP Hindi