‘बप्पी लहीरी जैसा ना कोई हुआ है ना कोई होगा, उनका संगीत हमेशा अमर रहेगा’

Bappi Lahiri Tribute : बप्पी लहिरी (Bappi Lahiri) के निधन से पूरी इंडस्ट्री में शोक की लहर छा गई है. हर कोई अपने अंदाज़ में बप्पी दा को श्रद्धांजली दे रही है. मीका सिंह ने एबीपी न्यूज़ से बातचीत में बप्पी दा को एक्सक्लूसिव म्यूजिकल ट्रिब्युट दिया है. मीका सिंह ने इंटरव्यू के दौरान गिटार बजाते हुए बप्पी दा के तमाम हिट गाने गाए और उनकी यादें साझा कीं.

मीका ने बताया कैसे उन्होंने 10 साल की उम्र में बप्पी दा के डिस्को गाने पर जिंदगी में पहली बार डांस किया था.सिंगर ने कहा ‘बप्पी दा जैसे लेजेंड के साथ बैठना-गाना ही सौभाग्य की बात थी. मेरा एक गाना आया था ‘मौजां ही मौजां’, को लेकर उन्होंने खूब मजाक मस्ती की थी. वो मेरे गाने को ‘मोजा ही मोजा’ (socks) कहकर मुझे चिढ़ाया करते थे. रूस में जब मैं एक स्टेज शो करने गया था तो मुझे बप्पी दा के गाने ‘जिम्मी जिम्मी आजा आजा’ की फरमाइश आई थी और मैंने उसे गाया था’.


बप्पी दा को याद करेत हुए नितिन मुकेश ने कहा, ‘संगीत की दुनिया में पहले से मातम छाया हुआ है और ऐसे में बप्पी का जाना एक और दुखद खबर है. मैंने उनके लिए काफी गाने गाए हैं, स्टेज पर भी और फिल्म में भी. मेरे पिता मुकेश ने बप्पी दा के करियर का पहला गीत गाया था. बप्पी दा ने पिछले साल नवंबर में अपना जन्मदिन मनाया था. कई संगीतकार और गायक पार्टी में शामिल हुए थे. बहुत खुश थे बप्पी उस वक्त. मैं भी इस पार्टी का हिस्सा था. वे बेहद सरल औए हंसमुख स्वभाव के थे. कभी किसी से नाराज नहीं होते थे. मेरे बच्चों की शादी भी आए थे. मुझे उनके लिए खुद का गाया गीत ‘कसम क्या होती है’ बेहद पसंद है, वैसे मुझे किशोर दा का गाया ‘चलते चलते’ भी बहुत पसंद है.

सिंगर शब्बीर कुमार ने बप्पी दा के लिए 60-65 गाने गाये थे. सिंगर को याद करते हुए शब्बीर कुमार ने कहा ‘मौसिकी की शान लता के जाने के गम से उबरना बाकी था कि एक और गोल्डन हार्ट वाले शख्स बप्पी दा इस दुनिया से चले गये हैं. शब्बीर ने कहा कि शख्सियत के बात करूं तो वो दिल के बहुत अच्छे इंसान थे. फिल्म इंडस्ट्री में जब नया-नया था तो मैं बप्पी लहिरी से मिला, उन्होंने फौरन अगले दिन मुझे रिकॉर्डिंग के लिए बुला लिया…मेरे करियर में उनका बहुत योगदान रहा है. उन्होंने बहुत अच्छा काम किया जो जिंदगी भर याद रहेगा’. मेहल कुमार ने कहा, ‘वह बेहद सरल स्वभाव के संगीतकार थे, बहुत अच्छे गायक भी थे.बप्पी लहिरी जैसा ना कोई हुआ है और ना कोई होगा. उनका संगीत हमेशा के लिए अमर रहेगा.’

अभिनेता चंकी पांडे ने एबीपी न्यूज़ से बात करते हुए कहा कि बप्पी लहिरी के बग़ैर तो उनका करियर ही संभव नहीं था और उन्हीं के दिये कई फिल्मों में संगीत से उनका करियर आगे बढ़ा.



Source link ABP Hindi