पुतिन की मौजूदगी में रूसी सेना ने किया परमाणु मिसाइलों का अभ्यास, G7 और NATO ने की ये मांग

Russia Ukraine Conflict: रूस और यूक्रेन मुद्दे पर जारी विवाद थमने का नाम ही नहीं ले रहा है. स्थिति ऐसी है कि दोनों ही एक दूसरे पर कभी भी हमला करने का अंदेशा जता रहे हैं. इस स्थिति के मद्देनजर अमेरिका और पश्चिमी देशों में चिंता और डर का माहौल है. वहीं नाटो (Nato) और जी7 (G7) जैसे संगठन रूस से लगातार अपनी सेना यूक्रेन (Ukraine) की सीमा से पीछे लेने की अपील कर रहे हैं.

रूस और अमेरिका (USA) के बीच बात इस हद तक बढ़ चुकी है कि नौबत परमाणु युद्ध तक पहुंच गयी है. अमेरिका ने परमाणु हमला करने में सक्षम बी-52 बॉम्बर्स जेट को यूरोप में तैनात कर दिया है, अपने सबसे आधुनिक स्टेल्थ फाइटर जेट F-35 को भी भेज दिया है. वहीं दूसरी तरफ शनिवार को रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन (Vladimir Putin) की मौजूदगी में रूस ने अब तक की सबसे बड़ी न्यूक्लियर मिसाइल ड्रिल (Nuclear Missile Drill) का अभ्यास शुरू कर दिया है.

यूएन सुरक्षा परिषद में भी नहीं निकला मुद्दे का हल

हालांकि इस जंग को रोकने के लिए संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में अहम बैठक भी हुई, लेकिन यहां भी रूस और उसके विरोधी देशों के बीच गरमा गरमी साफ दिखी. दूसरी तरफ रूस को रोकने के लिए यूरोप के कई देशों ने भी अपने-अपने फाइटर जेट्स की तैनाती कर दी है, तो रूस भी पीछे नहीं रहा है.

रूस ने शुरू किया अपना परमाणु युद्धाभ्यास

उसकी नेवी ने एक तरह से यूक्रेन पर अटैक का ट्रायल शुरु कर दिया है. रूसी राष्ट्रपति पुतिन पहले भी अमेरिका को अपने परमाणु हथियारों की याद दिला चुके हैं. पुतिन ने समाचार एजेंसियों से बात करते हुये कहा था कि हमें पता है कि नाटो की संयुक्त ताकत के सामने रूस का मुकाबला नहीं है. हम ये समझते हैं लेकिन हमें ये भी पता है कि रूस दुनिया की अग्रणी न्यूक्लियर ताकतों में से एक है.

पुतिन ने कहा कि कई दूसरे देशों से आधुनिक न्यूक्लियर फोर्स के मामले में रूस बहुत ज्यादा बेहतर है ऐसे में कोई भी विजेता नहीं होगा. यानी इशारों ही इशारों में पुतिन बता चुके हैं कि अगर जरूरत पड़ी तो वो अपने परमाणु बम का इस्तेमाल करने से पीछे नहीं हटेंगे.

Ukraine-Russia Conflict: यूक्रेन के राष्ट्रपति ने बढ़ते तनाव के बीच पुतिन को बातचीत का प्रस्ताव दिया

Ukraine Crisis: रूस ने अगर यूक्रेन पर किया हमला तो उसकी अर्थव्यवस्था का होगा ये अंजाम, यूरोपीय संघ प्रमुख ने किया आगाह

Source link ABP Hindi