गेहूं की रोटी या मल्टीग्रेन आटे की रोटी? वजन घटाने के लिए किसका करें सेवन

Weight Loss Tips: अधिकतर लोग वजन कम करने के लिए डाइटिंग पर चले जाते हैं यानी खाना-पीना कम कर देते हैं. कई लोग वजन घटाने के चक्कर में रोटी तक छोड़ देते हैं. यह वजन कम करने का हेल्दी विकल्प नहीं होता है. ऐसा करने से आपको थकान महसूस हो सकती है. लेकिन वेट लॉस के दौरान आप रोटी भी खा सकते हैं. इसके लिए आपको सही आटे का चुनाव करना होगा. लेकिन बहुत से लोग सोच में पड़ जाते हैं कि वेट लॉस के लिए गेहूं की रोटी और मल्टीग्रेन रोटी में से क्या ज्यादा फायदेमंद होता है. ऐसे में आपको ज्यादा सोचने की जरूरत नहीं है क्योंकि हम यहां आपको बताएंगे कि आपको किस आटे की रोटी का सेवन करना चाहिए. चलिए जानते हैं.

मल्टीग्रेन रोटी (Multigrain Roti)- मल्टीग्रेन रोटी का मतलब एक ऐसी रोटी से हैं जो कई तरह के अनाज से मिलकर बनती है. इसमें जई, गेहूं,बाजरा,मकई, ज्वार, चना आदि शामिल है. बता दें मल्टीग्रेन अनाज में 3 से 5 तरह के अनाज शामिल हो सकते हैं. इसमें अधिक अना आटा भी मल्टीग्रेन आटे में ही आता है. मल्टीग्रेन आटे में अधिक फाइबर होता है जो वेट लॉस करने वालों के लिए फायदेमंद होता है.

मल्टीग्रेन रोटी के फायदे-

1-

मल्टीग्रेन आटे से बनी रोटियां खाने से मासंपेशमयां मजबूत बनती हैं. अगर गेहीं के आटे में सोयाबीन, चना और जौ भी मिलाया जे तो यह प्रोटीन का अच्छा सोर्स बन जाता है. यह बच्चों के विकास में भी लाभकारी होता है.

2- मल्टीग्रेन आटे से बनी रोटियां खाने से पाचन तंत्र भी सही तरीके से कार्य करता है.

गेहूं की रोटी (Wheat Roti)- गेहूं का आटा सिर्फ साबुत गेहूं को पीसकर तैयार किया जाता है.

गेंहू की रोटी खाने के फायदे

गेहूं की रोटियां डायबिटीज, हृदय रोगियों के लिए फायदेमंद होती है. नियमित रूप से गेहूं की रोटी खाने से कई तरह की बीमारियों का खतरा कम हो जाता है.

गेहूं की रोटी और मल्टीग्रेन रोटी- वजन कम करने के लिए मल्टीग्रेन की रोटी वजन घटा रहे लोगों के लिए ज्यादा फायदेमंद होती.इसलिए आप इसका सेवन कर सकते हैं.

Health Tips: 40 की उम्र के बाद महिलाएं इन Unhealthy Habits की वजह से दिखने लगती हैं बूढ़ी

Health Tips: Bad Eating Habits से चाहिए छुटकारा? अपनाएं ये आसान उपाय

Disclaimer: इस आर्टिकल में बताई विधि, तरीक़ों व दावों की एबीपी न्यूज़ पुष्टि नहीं करता है. इनको केवल सुझाव के रूप में लें. इस तरह के किसी भी उपचार/दवा/डाइट पर अमल करने से पहले डॉक्टर की सलाह जरूर लें.

Check out below Health Tools-
Calculate Your Body Mass Index ( BMI )

Calculate The Age Through Age Calculator

Source link ABP Hindi