आज सुबह 10 बजे होगा डिस्को किंग का अंतिम संस्कार, जूहु स्थित घर से निकलेगी अंतिम यात्रा

Bappi Lahiri Passes Away: बॉलीवुड के मशहूर सिंगर बप्पी लहरी का मंगलवार देर रात मुंबई के एक अस्पताल में निधन हो गया था. उनकी उम्र 69 साल थी. उनका मुंबई के जुहू के क्रिटी केयर अस्पताल में रात 11 बजे निधन हो गया था. गुरुवार को आज उनका अंतिम संस्कार किया जायेगा. मिली जानकारी के मुताबिक आज सुबह 10 बजे जूहु के लाहिड़ी हाउस से उनकी अंतिम यात्रा निकलेगी. उनका बेटा और बहु अमेरिका से मुंबई पहुंच चुके हैं.

लाहिड़ी हाऊस से शुरु होगी अंतिम यात्रा

जैसा की जानकारी मिल रही है उसके मुताबिक सुबह 10.00 बजे के बाद जुहू के ‘लाहिड़ी हाउस’ से बप्पी दा का पार्थिव शरीर विले पार्ले के पवन हंस स्थित श्मशान गृह के लिए खुले ट्रक में फूलों से सजाकर ले जाया जाएगा ताकि राह चलते लोग उनके अंतिम दर्शन कर सकें. ठीक उसी तरह से जैसे लता मंगेशकर के अंतिम सफर के दौरान हुआ था. ट्रक पर बप्पी लहिड़ी की बड़ी सी तस्वीर भी लगाई जाएगी.

घर से श्मशान गृह की दूरी तय करने में लग सकता है वक्त

बप्पी दा के घर लाहिड़ी हाउस से श्मशान गृह की दूरी तकरीबन 2.6 किलोमीटर है और सामान्यतः 10 मिनट में यह रास्ता तय किया जा सकता है लेकिन ट्रक की रफ्तार और लोगों की भीड़ के मद्देनजर इस दूरी को कवर करने में घंटे भर का भी समय लग सकता है. अंतिम सफर का ये समय (कम या ज्यादा) पूरी तरह से इसकी रफ्तार पर निर्भर करेगा.

गौरतलब है कि उनका मुंबई के जुहू के क्रिटी केयर अस्पताल में रात 11 बजे निधन हो गया था. उनका जन्म 27 नवंबर 1952 को जलपाईगुड़ी पश्चिम बंगाल में हुआ था. उनका असली नाम अलोकेश लाहिड़ी था. उनके माता पिता का नाम अपरेश लाहिड़ी और मां का नाम बान्सरी लाहिड़ी था.

बेहद पसंद था सोने के गहने पहनना

बप्पी लहिरी को सोना पहनना और हमेशा चश्मा लगाकर रखना बेहद पसंद था. गले में सोने की मोटी-मोटी चेन और हाथ में बड़ी-बड़ी अंगूठियां समेत सोने के ढेर सारे गहने पहनना उनकी पहचान थी. बप्पी लहिरी को बॉलीवुड का पहला रॉक स्टार सिंगर भी कहा जाता है. बप्पी लहिरी के दो संतान हैं.

Exclusive: ओवैसी बोले- हिजाब हमारा संवैधानिक अधिकार, हिंदू भगवा शॉल पहनें, कौन रोका है

Brazil Rains: ब्राजील में तबाही लाई भारी बारिश, भूस्खलन में कम से कम 78 लोगों की मौत

Source link ABP Hindi