अपने आजादी वाले बयान पर कंगना रनौत को नहीं अफसोस! एबीपी से बातचीत में देखें अब क्या कहा

Kangana Ranaut Exclusive Interview: अपने बयानों की वजह से अक्सर विवादों में रहने वाली कंगना रनौत ने abp से exclusive बातचीत में आजादी को लेकर दिए गए बयान पर नया रिएक्शन दिया है. एक्टर कंगना रनौत ने कहा कि आजादी को लेकर बयान पर मुझे कोई अफसोस नहीं है.

कंगना रनौत ने कहा कि मुझे नहीं लगता कि मैने कुछ गलत कहा है. हर शख्स को इस देश में अपना पक्ष रखने की आजादी होनी चाहिए. यही लोकतंत्र का मतलब है. मेरी इस बात से कुछ लोग एग्री करते हैं कुछ डिसएग्री भी करते हैं. एक समाज में दोनों पक्ष होने चाहिए. इस देश में महात्मा गांधी और सुभाष चंद्र बोस दोनों के फॉलोअर्स होने चाहिए.

कंगना रनौत ने आजादी को लेकर एक बयान दिया था, जिसको लेकर उनकी खूब आलोचना हुई थी. उन्होंने कहा था कि 1947 में आजादी भीख में मिली थी. यूपी- उत्तराखंड बिहार समेत कई राज्यों ने कंगना के बयान के खिलाफ विरोध प्रदर्शन भी किया.

सोशल मीडिया पर फैंस कंगना से पद्मश्री वापस की मांग भी करने लगे थे. कई राज्यों में तो कंगना के बयान के खिलाफ केस भी दर्ज कराया गया है. कंगना रनौत ने कहा था कि 1947 में भारत को जो मिला था, वह ‘‘भीख’’ थी और देश को असली आजादी 2014 में मिली जब नरेंद्र मोदी देश के प्रधानमंत्री बने.”


ये भी पढ़ें- UP Election 2022: रोमांचक हुई Karhal की जंग, बेटे Akhilesh Yadav के लिए Mulayam Singh Yadav ने मांगा वोट

ये भी पढ़ें- UP Election 2022: यूपी के फतेहपुर में बोले PM मोदी- सारे विवाद एक तरफ और राष्ट्रवाद एक तरफ, तीन तलाक का भी किया जिक्र

Source link ABP Hindi